लिंग का साइज बढ़ाने वाली होम्योपैथिक दवा और एक्सरसाइज


युवा काल में लिंग के आकार के प्रति चिंता एवं उत्सुकता लगभग हरेक पुरुष मे होती है. परन्तु यह ध्यान देने वाली बात है कि हर पुरुष के लिंग मे लंबाई, मुटाई तथा स्थिरता में भिन्नता तो अवश्य होती है पर इस भिन्नता का यौन संतुष्टी, गर्भाधारण तथा यौन क्षमता पर कोई प्रभाव नहीं पडता.

वास्तव में स्त्री के योनि का उपरी एक तिहाई भाग ही यौन स्पर्श के प्रति संवेदनशील होता है. अत; उत्तेजित अवस्था मे यदि शिश्न की लंबाई केवल 2 से.मे. भी हो तो वह अपने यौन साथी को प्रयाप्त यौन आनंद प्रदान करा पाने मे सक्ष्म होता है. अतः आप चिंता ना करें और बहलाने वाले विज्ञापनों के चक्कर में पडकर अपने शिश्न की लंबाई, मोटाई एवं उत्तेजना बढ़ाने वाली दवाओं का सेवन कदापि ना करें . इससे फायदा तो दुर नुकसान अवश्य हो सकता है।

लिंग का साइज़ बढ़ाने के लिए होम्योपैथिक दवा 

होमियोपैथी मुख्य-रूप से रोगी के लक्षण पर निर्भर करती है, क्यूंकि हर रोगी की अपनी अपनी विशेषता और समस्या होती है जिसके आधार पर दवा भी अलग अलग होती हैं होमियोपैथी में रोग का मूल कारण पता करके रोग को जड़ से खतम किया जाता है

यदि आपका लिंग बचपन से छोटा है तो शरीर के अन्दर कोई हार्मोनल या जेनेटिक्स परेशानी हो सकती है जिसका उपचार सिर्फ और सिर्फ होमियोपैथी द्वारा ही संभव है अगर बुरी आदतों की वजह से लिंग छोटा रह गया है तो उसके लिए आयुर्वेद , यूनानी अवम होमियोपैथी में कई दवाएं हैं जिनसे लिंग को पुनह सामान्य अवस्था में लाया जा सकता है | होमियोपैथी दवा का प्रयोग कुशल चिकितस्क की देख रेख में करना चाहिए क्यूंकि अगर गलत दवा ले रहे हैं तो प्रभाव उलट भी हो सकता है |

लिंग की विकृति में तिला का प्रयोग

दालचीनी का तेल, बादाम का तेल, जमालगोटा का तेल और पिस्ता का तेल – सभी तेल समान मात्रा में लेकर एक साथ मिलाकर रख लें। इसे एक बूद की मात्रा में रात को सोेते समय इंद्रिय पर लगाये और ऊपर से पान का पत्ता बांधकर सो जाएं। इस तिला का प्रयोग एक महिने तक करने से लिंग का टेढापन, पतलापन एंव असमानता दूर हो जाती है और वो शक्तिशाली हो जाता है।

लिंग का size बढ़ाने वाली exercise (लिंग को बड़ा करने के Exercise)

छोटे लिंग का size बड़ा करने के लिए यदि आप exercises की help लेना चाहते हैं तो आपको अपने penis को perfect stretch देना होगा। Large penis का dream देख रहे लोगों को चाहिए कि वो अपने penis को चारों तरफ से stretch करें। आप इस प्रक्रिया को रोजाना 10-15 minutes तक दोहराएँ। इसके आलावा अप O-shape बनाकर हाथों से बराबर stretch कर सकते हैं।

लिंग की लम्बाई बढ़ाने के Extra उपाय

  • आप लिंग के blood circulation को उचित करने के लिए अंगूठे की मदद से लिंग के निचले हिस्से पर pressure डालते हुए ऊपर की ओर ले जाएँ। यह प्रक्रिया रोजाना 15-20 बार करने से आपका blood circulation ठीक होगा।
  • penis का रक्त संचार ठीक करने के लिए आप गर्म पानी में तौलिया भिगोकर मालिश कर सकते हैं।
  • अपनी life में योग और meditation को भी शामिल करें। रोजाना कपालभाती प्राणायाम जरुर करें।
  • मोटापा पर काबू करने से भी लाभ मिलेगा।
  • उचित मात्रा में पानी पियें और भोजन में zinc, omega-3 fatty acids और विटामिन B-6 युक्त पदार्थों को शामिल करें।
  • healthy, कम तनाव वाली और smoking रहित lifestyle लिंग की लम्बाई बढ़ाने के सपने को जल्दी पूरा करेगी। इसलिए अपनी lifestyle को अधिक healthy और sporty बनायें।

ध्यान रखें

  • ज्यादातर penis का छोटा होना inherited (पारिवारिक) होता है, इसलिए इसके छोटा होने पर कभी भी मानसिक रूप से stress न लें।
  • एक research के अनुसार महिलायों को संतुष्ट करने के मामले में लिंग का छोटा होना कोई मायने नहीं रखता। Doctors का कहना है कि महिलायों की योनी छोटे लिंग को सुविधानुसार adapt कर लेती है।
  • कोई भी medicine, oil आदि का प्रयोग करने से पहले अपने doctor से advice जरुर ले ताकि आपको पता चल सके कि इनसे कोई side effects तो नहीं होगा।

 

3 comments

  • Sir me 19year ka hun or Mera jaldi discharge ho jata hai sex Karne se pehle please Koi medicine muje chahiye please sir help me or ager Kuch galt sochta hun tab spearm nikal jata hai aap mere email id Pr bta dijiye please sir

  • Thanks for sharing your post. Natural penis enlargement supplement like sikander-e-azam plus is also best to increase penis girth and length up to 2 inches.

  • Sir me 19year ka hun or Mera jaldi discharge ho jata hai sex Karne se pehle please Koi medicine muje chahiye please sir help me or ager Kuch galt sochta hun tab spearm nikal jata hai aap mere email id Pr bta dijiye please sir

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *